25 छोटे बच्चों के लिए जासूसी पहेलियां {Bachchon Ki Paheliyan}

25 छोटे बच्चों के लिए जासूसी पहेलियां {Bachchon Ki Paheliyan} आज हम आपके साथ छोटे बच्चों के लिए पहेलियां शेयर कर रहे हैं पहेलियों से मस्तिष्क का विकास होता है, पहेलियां आपको रोज पढ़नी चाहिए इससे पहले भी हम आपके साथ बहुत सी पहेलियां शेयर कर चुके हैं जैसे 15 मजेदार पहेलियां, 20 मजेदार पहेलियां, 25 मजेदार पहेलियां 30 मजेदार पहेलियां, 40 दिमाग की पहेलियां यदि अभी तक आपको इन पोस्ट को नहीं पढ़ा है तो एक बार जरूर पढ़ें पोस्ट के नीचे इन का लिंक दे दिया जाएगा

छोटे बच्चों के लिए जासूसी पहेलियां {Bachchon Ki Paheliyan}

25 छोटे बच्चों के लिए जासूसी पहेलियां {Bachchon Ki Paheliyan}

पहेलियां क्या होती है पहेलियां किसे कहते हैं इसके बारे में आप जानते ही होंगे यदि नहीं जानते हैं तो 20 मजेदार पहेलियां इस पोस्ट को पढ़ें आपको मालूम चल जाएगा पहेलियां किसे कहते हैं क्योंकि एक ही बात को बार बार बताने से कोई फायदा नहीं है चलिए शुरू करते हैं बच्चों के लिए जासूसी मजेदार पहेलियां

छोटे बच्चों के लिए जासूसी पहेलियां, छोटे-छोटे बच्चों की पहेलियां, जासूसी पहेलियाँ, छोटे बच्चों के लिए पहेलियां, बच्चों के लिए मजेदार पहेलियां, बच्चों की पहेली बच्चों की मजेदार जासूसी पहेलियाँ, मजेदार पहेलियाँ, बच्चों की नई नई पहेलियां

दो-दो सुंदर बच्चे दोनों का एक ही रंग है
अगर एक भी बिछड़ गया दूजा काम न करेगा

उतर: जूते

बोझा ढोता है जो दिन भर, करता नहीं पुकार
मालिक दो होते हैं जिसके, धोबी और कुम्हार

उतर: गधा

पानी में ख़ुश रहता हरदम, धीमी जिसकी चाल
ख़तरा पाकर सिमट जाए झट, बन जाता खुद ढाल

उतर: कछुआ

चर चर करती, शोर मचाती, पेड़ों पर चढ़ जाती
काली पत्तियां तीन पीठ पर, कुतर कुतर फल खाती

उतर: गिलहरी

जंगल में हो या पिंजरे में, रौब सदा दिखलाता
मांसाहारी भोजन जिसका, वनराज कहलाता है।

उतर: शेर

जब भी लिखें तब होता है आपको बनती हूं मैं सखी-सहेली
यही है मेरा गुण रे भाई जब भी काटो नई-नवेली

उतर: पेन्सिल

हरी ड्रेस और लाल चोंच है रटना जिसका काम
कुतर-कुतरकर फल खाता है, लेता हरि का नाम

उतर: तोता

छत से लटकी मिल जाती है, छह पग वाली नार बुने लार से मलमल जैसे कपड़े जालीदार

उतर: मकड़ी

चोरों पर जो झपटा करता घर का है रखवाला इसकी भौं भौं से डर जाता चाहे हो दिलवाला

उतर: कुत्ता

गले में कम्बल पीठ पर थुथनी रखती है थन चार
दूध घी और देती बछड़ा करते हम सब प्यार

उतर: गाय

छोटे तन में गांठ लगी है, करे जो दिन भर काम
आपस में जो हिलमिल रहती, नहीं करती आराम

उतर: चींटी

राग सुरीली रंग से काली, सबके मन को भाती
बैठ पेड़ की डाली पर जो, मीठे गीत सुनाती

उतर: कोयल

धूप देखने मैं आ जाऊं छांव देखकर शर्माऊं
जब भी आया हवा का झोंका साथ ही के उड़ जाऊं

उतर: पसीना

लम्बी गर्दन, पीठ पर कूबड़, घड़ों पानी पी जाए टीलों पर जो सरपट दौड़े मरुथल जहाज़ कहाए

उतर: ऊंट

कुकडूं-कूं जो बोला करता, सबको सुबह जगाता
सर पर लाल कलंगी वाला, गांव घड़ी कहलाता

उतर: मुर्गा

सरस्वती की सफ़ेद सवारी, मोती जिनको भाते
करते अलग दूध से पानी, बोलो कौन कहलाते

उतर: हंस

दुश्मन का आना बुरा जाना भला जनाब
लेकिन क्या है जिसका आना-जाना दोनों खराब है

उतर: आंखें

अगर नाक पर चढ़ जाऊं कान पकड़कर आपको पढ़ाऊं

उतर: चश्मा

टर्र टर्र जो टर्राते हैं जैसे गीत सुनाते, जब ये जल में तैरा करते, पग पतवार बनाते

उतर: मेंढक

गोल गोल हैं जिनकी आंखें, भाता नहीं उजाला
दिन में सोयम हरदम रहता है, रात विचरते हैं

उतर: उल्लू

सुबह सवेरे घर की छत पर, करता कांव कांव काले रंग में रंगा है पंछी मिलता गांव गांव

उतर: कौवा

जब तक रहता है मैं सीधा सबको बहुत पिलाती हूं
अगर मुझे तुम उल्टा कर दो मैं गरीब हो जाऊंगी

उतर: नदी

एक राजा की विकासशील रानी दुम के सहारे पीती पानी

उतर: दिया-बाती

काले घोड़े की सफेद सवारी एक उतरा तो दूसरे की बारी

उतर: तवा-रोटी

हमने देखा अजब अचम्भा, पैर हैं जैसे कोई खम्भा,
थुलथुल काया, बड़े हैं कान, सूंड इसकी होती हैं पहचान

उतर: हाथी

कान बड़े हैं, काया छोटी, कोमल-कोमल बाल
चौकस इतना पकड़ सके न, बड़ी तेज़ है चाल

उतर: खरगोश

नर पंछी नारी से सुन्दर, वर्षा में नाच दिखाता
मनमोहक कृष्ण को प्यारा, राष्ट्र पक्षी कहलाता

उतर: मोर

तांगा बग्घी रथ चलाते मन करे तो हिनहिनाते चने चाव से खाते हैं, खड़े खड़े सो जाते हैं

उतर: घोड़ा

25 छोटे बच्चों के लिए जासूसी पहेलियां {Bachchon Ki Paheliyan} छोटे बच्चों के लिए जासूसी पहेलियां, छोटे-छोटे बच्चों की पहेलियां, जासूसी पहेलियाँ, छोटे बच्चों के लिए पहेलियां, बच्चों के लिए मजेदार पहेलियां, बच्चों की पहेली बच्चों की मजेदार जासूसी पहेलियाँ, मजेदार पहेलियाँ, बच्चों की नई नई पहेलियां

आप ये भी पढ़े

Comments (0)

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *