Call Forwarding Kya Hai / Activate or Deactivate Kaise Kare {कैसे करें} कॉल फॉरवर्डिंग की सुविधा सभी मोबाइल में होती है चाहे वह है एंड्रॉयड स्मार्टफोन हो या फिर सिंपल कीपैड मोबाइल,  Call Forwarding सर्विस के द्वारा हम एक मोबाइल नंबर की कॉल को दूसरे नंबर पर ट्रांसफर करके उसे रिसीव कर सकते हैं,  इस पोस्ट में हम आपको Call Forwarding (Call Divert) Karne Ka Tarika बताने जा रहे हैं अगर आपको नहीं मालूम कॉल फॉरवर्डिंग क्या होता है इसको Activate कैसे करें और Deactivate कैसे करें, call forwarding cancel kaise kare,  कॉल फॉरवर्डिंग करना हमारे लिए किस समय मददगार साबित हो सकता है और इसको क्यों यूज़ करना चाहिए,तो चलिए सरू करते है Call Forwarding  In Hindi
Call Forwarding Kya Hai / Activate or Deactivate Kaise Kare {कैसे करें}


Call Forwarding (Call Divert) Kya Hai

 एक मोबाइल नंबर की इनकमिंग कॉल को किसी दूसरे मोबाइल नंबर पर ट्रांसफर करने को कॉल फॉरवर्डिंग कहते हैं, मान लीजिए आपके पास दो मोबाइल है और आप कहीं घूमने जा रहे हैं तो आप एक ही मोबाइल को साथ लेकर जाना चाहते हैं लेकिन आप दोनों मोबाइल नंबर की कॉल को रिसीव करना चाहते हैं इसके लिए आप जिस भी मोबाइल को घर पर छोड़ कर जा रही उस मोबाइल के नंबर को साथ ले कर जाने वाले मोबाइल पर Forwarding कर सकते हो



कॉल फॉरवर्डिंग (Call Divert) करने के बाद जो आपके साथ मोबाइल है उसकी इनकमिंग कॉल तो आप रिसीव कर ही पाएंगे साथ ही में आप इसी मोबाइल नंबर पर घरवाले मोबाइल का इनकमिंग कॉल भी रिसीव कर पाएंगे जब भी उस नंबर पर कोई कॉल करेगा तो आपके साथ वाले मोबाइल पर वह कॉल आएगा इसे कॉल फॉरवर्डिंग कहते हैं, 

 मोबाइल में कॉल फॉरवर्डिंग तीन प्रकार से किया जा सकता है when busy, when Unanswered, when unreachable,  चलिए इसके बारे में थोड़ा विस्तार से आपको बताते हैं,

When Busy जब आपका मोबाइल नंबर व्यस्त हो, यानी आप किसी दूसरे से बात कर रहे हो ऐसी कंडीशन में अगर आप चाहते हैं, उस समय उस Call का जवाब कोई दूसरा व्यक्ति दे तो आप उसको किसी भी नंबर पर ट्रांसफर कर सकते हो, ऐसा करने के बाद जब भी आपका मोबाइल व्यस्त होगा उस समय कोई आप के नंबर पर कॉल करेगा तो जिस नंबर पर आप ने फॉरवर्ड किया है, उसके पास वह कॉल ऑटोमेटिक ही चला जाएगा, और वह उस कॉल को रिसीव करके बात कर सकता है

When Unanswered जब आपके मोबाइल पर कोई कॉल करता है और आप उसका आंसर नहीं देते हो, ऐसी कंडीशन में अगर आप चाहते हैं आप उसका आंसर नहीं दे रहे हैं तो कोई दूसरा व्यक्ति उस कॉल को रिसीव करें तो आप उसका नंबर ऐड कर सकते हैं, इसके बाद जब भी आपके मोबाइल पर कोई कॉल करेगा और आप कॉल को रिसीव नहीं करेंगे तो जो भी नंबर आपने ऐड किया है उस नंबर पर वह कॉल फॉरवर्ड हो जाएगी और वह उस कॉल को रिसीव कर पाएगा

When Unanswered कि सर्विस उस समय बहुत काम आती है मान लीजिये आपके पास दो मोबाइल है और एक को आप साथ लेकर गए हैं और एक को घर पर भूल गए हैं या आप जानबूझकर छोड़ कर गए हैं ,तो आप जिस भी मोबाइल को हमेशा साथ रखते हैं उस नंबर पर उसको फॉरवर्ड कर सकते हैं, ताकि जब भी आप उसके कॉल को  रिसीव ना करें तो आप के साथ वाले मोबाइल पर उसका इनकमिंग कॉल आये

When Unreachable का मतलब होता है जब आपका मोबाइल स्विच ऑफ हो या नेटवर्क क्षेत्र से बाहर हो मान लीजिए आपके पास दो मोबाइल है और आपके एक मोबाइल का बैटरी डिस होने वाला है या उस मोबाइल में नेटवर्क की प्रॉब्लम है तो आपके साथ जो दूसरा मोबाइल है जिसमें नेटवर्क भी अच्छा है बैटरी भी  फुल है उस नंबर पर आप उसका Call Forward कर सकते हो

मुझे उम्मीद है अब आप समझ गए होगे कॉल फॉरवर्डिंग (Call Divert) क्या है, कॉल फॉरवर्डिंग क्यों यूज़ करना चाहिए कॉल फॉरवर्डिंग कितने प्रकार की होती है अब आपको बताते हैं मोबाइल में कॉल फॉरवर्डिंग (Call Divert) एक्टिवेट डीएक्टिवेट कैसे करते है

आप ये भी पढ़े 




Call Forwarding Activate Kaise Kare {How to activate Call Forwarding}

एंड्राइड मोबाइल में Call Forwarding (Call Divert) करने का फीचर्स कॉल सेटिंग के अंदर होता है अलग अलग कंपनी के मोबाइल में कॉल फॉरवर्डिंग करने का ऑप्शन कुछ अलग हो सकता है लेकिन इसका ऑक्शन सेटिंग में ही होता है, इसके लिए आपको अपने मोबाइल कि कॉल सेटिंग में जाकर कॉल फॉरवर्डिंग के ऑप्शन को देखना है
Call Forwarding Kya Hai / Activate or Deactivate Kaise Kare
  1. Phone डायलर पर क्लिक कीजिए 
  2. ऊपर तीन डॉट  बने उस पर क्लिक कीजिए
  3.  Setting पर क्लिक कीजिए, Setting पर क्लिक करने के बाद अगर आपके मोबाइल में Calling Account का ऑप्शन है तो इस पर क्लिक कीजिए, यहां पर आपको Call Forward का ऑप्शन मिल जाएगा 
  4. लेकिन अगर आपके मोबाइल में Calling Account की जगह More Setting का ऑक्शन है तो उस पर क्लिक कीजिए, यहां पर आपको Call Forward का ऑप्शन मिल जाएगा
    How to activate Call Forwarding
  5.  जब आपको Call Forward का ऑप्शन मिल जाए तो उस पर क्लिक करें, उसके बाद अगर आपके मोबाइल में डबल सिम है तो आपको सिम के लिए भी पूछा जा सकता है आप कौन सी सिम के लिए कॉल फॉरवर्डिंग सर्विस एक्टिवेट करना चाहते हैं उस को सेलेक्ट करें  
  6. फिर Voice Call Forwarding. पर क्लिक करें
  7. Voice Call Forwarding. पर क्लिक करने के बाद voice forwarding setting ओपन हो जाएगी और आपको  always forward, when busy, when Unanswered, when unreachable ऑप्शन दिखाई देंगे, आप कौन सी सर्विस अपने नंबर पर एक्टिवेट करना चाहते हैं उसको ओपन करें ओपन करने के बाद एक पॉप अप विंडो ओपन होगी उसमें वह नंबर डालें जिस पर आप कॉल को फॉरवर्ड करना चाहते हैं उसके बाद Save या Turn on  क्लिक करके सेटिंग को सेव कर दे
  8.  अगर आप इस सिम की सभी कॉल को फॉरवर्ड करना चाहते हैं तो always forward को सेलेक्ट करें, उसके बाद इस सिम की सभी कॉल फॉरवर्ड हो जाएगी जिस नंबर पर आप ने फॉरवर्ड किया है लेकिन अगर आप when busy, when Unanswered, when unreachable करना चाहते हैं तो अपने हिसाब से कर सकते हैं इसका क्या मतलब है कब यूज करना चाहिए इसकी पूरी जानकारी मैंने आपको  पहले ही बता दिया है

Keypad Mobile Me call Forwarding (Call Divert) Activate Kaise Kare 

Keypad mobile में कॉल फॉरवर्डिंग एक्टिवेट डीएक्टिवेट करने के लिए आपको सेटिंग में जाना है फिर कॉल सेटिंग में जाना है वहां पर आपको कॉल फॉरवर्डिंग का ऑप्शन देखना है जब आपको कॉल फॉरवर्डिंग का ऑप्शन मिल जाए तो ऊपर बताए गए अनुसार ही आप किसी भी नंबर को फॉरवर्ड कर सकते हो

Call Forwarding (Call Divert) Deactivate Kaise Kare {How to Deactivate Call Forwarding}

Call Forwarding Activate करने के बाद अगर आप कभी इसको Deactivate , call forwarding cancel kaise kare करना चाहते हैं तो जिस प्रकार से आपने एक्टिवेट किया है उसी प्रकार आपको सेटिंग में जाना है और जहां पर जो भी नंबर ऐड किया है उसको डिलीट करके सेटिंग को सेव कर देना है उसके बाद Call Forwarding Deactivate हो जाएगा

विशेष सूचना

किसी भी सिम नंबर पर कॉल फॉरवर्डिंग सर्विस एक्टिवेट डीएक्टिवेट करने के लिए जरूरी है वह सिम उस मोबाइल में होनी चाहिए जिस पर आप इस सर्विस को एक्टिवेट और डीएक्टिवेट करना चाहते हैं

अगर आपके मोबाइल में एक या एक से अधिक सिम है तो आपको सिम भी सेलेक्ट करना पड़ेगा जिस नंबर पर आप Call Forwarding (Call Divert) Service Activate Deactivate करना चाहते हैं

ध्यान में रखने वाली बात यह है कॉल फॉरवर्डिंग की सर्विस फ्री नहीं है इसके लिए आपको उस हिसाब से ही चार्ज देना पड़ेगा जिस हिसाब से आप किसी भी नंबर पर Call करते हो, मान लीजिए आपके मोबाइल पर outgoing calling रेट 50 पैसे हैं तो जिस नंबर को आपने फॉरवर्ड किया है, उस सिम से  50 पैसे मिनट के हिसाब से काटे जाएंगे

 कॉल फॉरवर्डिंग के लिए जरूरी है, जिस भी सिम नंबर को फॉरवर्ड किया है या करना चाहते हैं उसमें बैलेंस भी होना चाहिए तभी कॉल फॉरवर्ड सर्विस एक्टिवेट हो पाएगी

इस पोस्ट में मैंने आपको बताया कॉल फॉरवर्डिंग क्या है कॉल फॉरवर्डिंग क्यों यूज़ करना चाहिए किस समय यूज़ करना चाहिए इसके क्या फायदे हैं, कॉल फॉरवर्डिंग एक्टिवेट कैसे करें डीएक्टिवेट कैसे करें

 Call Forwarding Kya Hai / Activate or Deactivate Kaise Kare पोस्ट के बारे में मुझे नहीं लगता अब आपको कुछ और भी पूछने की जरूरत है लेकिन फिर भी आपके मन में कोई भी सवाल है तो आप कमेंट के द्वारा हमें बता सकते हैं, हम आपके कमेंट का जवाब जरूर देंगे

 कृपया अगर आपको इस पोस्ट से हेल्प मिलती है या कुछ सीखने को मिलता है तो आप इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें ताकि aaiyesikhe.com के बारे में आपके दोस्तों को भी पता चले, aaiyesikhe.com नाम याद रखना बहुत ही सरल है लेकिन अगर आप के याद नहीं रहता है तो आप अपने ब्राउज़र में बुकमार्क कर लीजिए ताकि आपको बार-बार नाम टाइप ना करना पड़े

 हमारी हर पोस्ट से अपडेट रहने के लिए अपना ईमेल आईडी डालकर सब्सक्राइब कर लीजिए ताकि हम ब्लॉग पर जो भी पोस्ट डालें उसकी सूचना सबसे पहले आपको मिले,सब्सक्राइब करने के बाद अपनी ईमेल आईडी को ओपन करके, वेरीफाई जरूर करें तभी आपको हमारी पोस्ट की सूचना मिल पाएगी